ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धोनी ने बनाया है ऐसा रिकॉर्ड जिसे गांगुली और गावस्कर भी अपनी कप्तानी में नहीं बना पाए

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलियाई टीम के भारत पहुंचते ही वनडे और T-20 सीरीज को लेकर खिलाड़ियों और दर्शकों के बीच गजब का उत्साह है। दो दिग्गज टीमों के बीच 17 सितंबर से शुरू होने वाले मुकाबले को देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहे है। हाल ही में श्रीलंका फतह कर लौटे मौजूदा भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए ये एक बड़ी चुनौती होने वाली है। भारत दौरे पर बुरी तरह टेस्ट सीरीज हारने वाली ऑस्ट्रेलिया टीम वनडे सीरीज में बदला लेने के लिए तैयार है। कप्तान कोहली के पास सीरीज जीत के साथ एक चुनौती होगी, जिसे वे जरुर पूरा करना चाहेंगे और यह चुनौती है ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय कप्तान की शतक बनाने की। जिसे अभी तक टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ही कर पाएं है। 

 

मही के आलावा कोई नहीं कर पाया यह करनामा 

-धोनी कंगारुओं के खिलाफ वनडे में शतक लगाने वाले इकलौते भारतीय कप्तान हैं। जहां एक तरफ कोई भी भारतीय कप्तान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में शतक नहीं लगा पाया है, वहीं दूसरी ओर धोनी ने कंगारू टीम के खिलाफ दो वनडे शतक जड़े हैं। धोनी ने बतौर कप्तान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कुल 40 वनडे मैच खेले हैं। जिनमें दो शतकों की मदद से धोनी ने कुल 1,204 रन बनाए हैं, जो कि किसी भी भारतीय कप्तान द्वारा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए सबसे ज्यादा रन हैं। कैप्टन कूल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला शतक साल 2009 में नागपुर में खेले गए दूसरे वनडे मैच में लगाया था। 

दूसरे शतक के लिए 4 साल तक करना पड़ा था इंतजार 

बतौर कप्तान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा शतक लगाने में माही को चार साल लग गए। धोनी ने 19 अक्टूबर 2013 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के चौथे मैच में दूसरा शतक जड़ा। 76 रन पर भारत के चार विकेट गिरने के बाद धोनी बल्लेबाजी करने आए और अकेले एक छोर से पारी को संभाला। धोनी ने 121 गेंदो पर नाबाद 139 रन जड़ दिए। हालांकि टीम इंडिया ये मैच 4 विकेट से हार गई थी। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धोनी का रिकॉर्ड अच्छा है, उम्मीद है कि इस सीरीज में भी वह कुछ बेहतरीन पारियां खेलेंगे। हालांकि दर्शकों का ध्यान विराट कोहली पर ज्यादा रहेगा, देखना होगा कि वह धोनी का ये रिकॉर्ड तोड़ पाते हैं या नहीं।